किशोर-किशोरियों को मानसिक रूप से मजबूत करेगा “साथिया सलाह”

1 min read



गया : किशोरावस्था में होने वाले बदलाव व उससे जुड़ी भ्रांतियां अब मात्र एक क्लिक पर दूर हो जाएंगी। स्वास्थ्य विभाग ने राष्ट्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम के तहत साथिया सलाह मोबाइल एप लांच किया है। इस एप् से किशोर एवं किशोरियों को उम्र के मुताबिक स्वास्थ्य मुद्दों पर सलाह प्राप्त हो सकेगी। साथ ही जीवन कौशल संबंधी प्रश्नों का समाधान व साथिया हेल्पलाइन द्वारा सलाहकारों से जानकारी भी ली जा सकेगी। उम्र के साथ शरीर में कई तरह के बदलाव आते हैं, जिससे किशोर-किशोरियां अनजान होते हैं और कई बार उन्हें इसका खामियाजा भुगतना पड़ता है। यह एप् माता-पिता को भी किशोर-किशोरियों में उम्र के मुताबिक होने वाले बदलावों के संबंध में जागरूक करेगा।
गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है: स्मार्टफोन पर गूगल प्ले स्टोर से इसे डाउनलोड किया जा सकता है। इसमें एक टोल फ्री नंबर भी दिया गया है, जिस पर संपर्क कर कोई भी किशोर अपनी शारीरिक और मानसिक समस्याओं के बारे में विशेष सलाह ले सकते हैं। यही नहीं किशोर-किशोरी स्वयं भी अपने मोबाइल व कम्प्यूटर पर इस एप्लीकेशन को डाउनलोड कर सीधे जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। एप 10 से 19 वर्ष के बीच किशोर-किशोरियों को किशोरावस्था से जुड़े विषयों पर तकनीकी रूप से सही जानकारी देगा।
हेल्पलाइन नंबर जारी: स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण की ओर से मोबाइल ऐप और साथिया रिसोर्स किट के साथ-साथ एक हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया गया है। युवाओं के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002331250 जारी किया गया है, जिसमें वे जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इस हेल्पलाइन नंबर पर युवाओं को विशेषज्ञों के माध्यम से जानकारी दी जाएगी। वहीं, इस योजना में माता-पिता को भी जागरुक किया जाएगा, जिससे वे अपने बच्चों को पहले से ही शरीर में होने वाले परिवर्तन के बारे में बता सकते हैं। सही जानकारी के अभाव में लड़के और लड़कियां गलत कदम भी उठा लेते हैं, जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होता है। मगर इस हेल्पलाइन नंबर के जरिए किशोर-किशोरियों में होने वाला परिवर्तन के बारे में वह नि:संकोच बात कर सकते हैं।

समस्याओं का होगा निदान: चिड़चिड़ापन, धैर्य एवं पढ़ाई में एकाग्रता की कमी, दोस्तों, भाई-बहनों के साथ झगड़ा करना, ज्यादा वक्त घर के बाहर गुजारना, डिप्रेशन, बार-बार बीमार पड़ना, कहना न मानना, बहस करना, झूठ बोलना, बात करने में झिझकना, परिजनों से बात करने में कतराना, छोटी छोटी बातों में घबरा जाना जैसी समस्याओं का निदान आसानी से मिलेगा। इस एप में शारीरिक बदलाव, मानसिक स्थिति, भावनात्मक परिवर्तन, त्वचा संबंधी समस्या, पोषण आहार, यौन संबंधी, नशा, अधिकार, योजना और जीवन कौशल संबंधी प्रश्नों के समाधान दिए गए हैं।
मोबाइल एप से मिलेगी यह सुविधा:
• प्रजनन स्वास्थ्य समबंधित परामर्श सेवाएं
• किशोरावस्था दौरान पोषण समबंधित सलाह
• एनेमिया जाँच, उपचार तथा रोकथाम का परामर्श
• माहवारी से समबंधित स्वच्छता एवं समस्याओं के निराकरण पर सलाह एवं उपचार
• प्रजनन तंत्र संक्रमण व यौन जनित रोगों पर परामर्श
• प्रसव पूर्व जाँच एवं सलाह
• सुरक्षित गर्भपात हेतु मार्गदर्शन एवं सलाह
• समुचित रेफरल सेवा
• विवाह के सही उम्र की जानकारी हेतू परामर्श
• अन्य रोग एवं समस्याएं ( चर्म रोग, मानसिक तनाव, निराशा, नशापान, घरेलू एवं यौन हिंसा)

 16,945 total views,  7 views today

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *