बिहार

गरीबों के लिए शिक्षा को बढ़ावा देने वाली संस्थाओं का संचालन आवश्यक : जीतनराम मांझी

गया। शहर के आशा सिंह मोड़ के नजदीक रविवार को सीतयोग ग्रुप ऑफ इंस्टीच्यूशन, औरंगाबाद द्वारा बीबीए, बीसीए व बीजेएमसी के कोर्सेज की पढ़ाई के लिए नए केंद्र का शुभारंभ किया गया। केंद्र का उद्घाटन पूर्व मुख्यमंत्री जीतनराम मांझी ने फीता काटकर किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए श्री मांझी ने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में ऐसी संस्थाएं आवश्यक हैं, जिनके सहयोग से शिक्षा को बढ़ावा दिया जा सकता है। उन्होंने संस्था की उपलब्धि एवं व्यवस्था पर प्रकाश डालते हुए कहा कि संस्थान में सभी कोर्स की पढ़ाई सुयोग्य शिक्षकों के द्वारा स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड के माध्यम द्वारा करवाने की व्यवस्था है। इससे शहर एवं आसपास के गरीब बच्चों को शिक्षा प्राप्त करने में काफी सहूलियत होगी। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए ट्रस्ट के सचिव जावेद सलीम ने शिक्षा का समुचित लाभ लेने के लिए उपस्थित छात्रों एवं अभिभावकों को प्रेरित किया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए ट्रस्ट के अध्यक्ष टीएच खान ने शहरवासियों को स्टूडेंट क्रेडिट कार्ड के माध्यम से उच्च शिक्षा हासिल करने पर बल दिया। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रन वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष राम स्वरुप विद्यार्थी एवं सचिव विनोद लाल मेघवाल ने सभी को धन्यवाद दिया एवं ट्रस्ट के उद्देश्य तथा सरकार की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने की अपील की। ताकि गरीब घर के बच्चे इसका समुचित लाभ प्राप्त कर सके। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सीतयोग कॉलेज के अध्यक्ष राजेश कुमार सिंह ने संस्थान द्वारा संचालित विभिन्न कोर्सेज की जानकारी दी।
ये थे उपस्थित
मौके पर देवबली कुमार, राजेश कुमार, मोइनुद्दीन, उदय भास्कर, अजीत कुमार, उदय कुमार, अमिताभ कुमार, ज्योति प्रकाश सिन्हा, प्रवीण रंजन, दीपक कुमार, सुरेश प्रसाद, उपेंद्र कुमार, सीएम आरफीन सैफी, मिथिलेश कुमार, वाहिद सलीम, मो. शकील, मो. आमिर, इमरान सैफी, उमैर खान, राजकिशोर प्रसाद, निशा चौधरी, अब्दुल रहमान, प्रो. धनंजय कुमार, शंकर चौधरी, शाहिद खान, आफरीन मोहम्मदी, सोनाली कुमारी सहित प्राइवेट स्कूल एंड चिल्ड्रन वेलफेयर एसोसिएशन के बैनर चले संचालित कई विद्यालयों के निदेशक भी उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button